क्या है कोरोना वायरस का नया वेरिएंट IHU जानिए इसके लक्षणो के बारे मे

IHU कोरोना वाइरस के लक्षण: विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना वायरस के इस वेरिएंट को लेकर ज्यादा कुछ कहना अभी जल्दबाजी होगी. पूरी दुनिया एक बार फिर कोरोना वायरस से परेशान है. हर दिन हजारों की संख्‍या में कोरोना वायरस संक्रमण के नए केस दर्ज किए जा रहे है और इसी बीच COVID के एक और वेरिएंट IHU ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है. फ्रांस में वैज्ञानिकों को कोरोना वायरस का एक नया वेरिएंट मिला है जो ओमीक्रोन से भी ज्‍यादा संक्रामक है. लोगों के दिमाग में यही सवाल है कि आखिरकार इस नए वेरिएंट के क्या लक्षण है? और क्या है ये IHU वेरिएंट? आइए जानते है.

See also  वायरस को खत्म करने के लिए आया बूस्‍टर डोज स्वदेशी कंपनी के ट्रायल में आए अच्छे नतीजे

क्या है IHU वेरिएंट?

फ्रांस में वायरस के नए वेरिएंट की खोज हुई है, जिसे IHU नाम दिया गया है. इस वेरिएंट को लेकर विशेषज्ञों ने चिंता व्यक्त की है. माना जा रहा है कि इसकी वजह से संक्रमण की नई लहर आ सकती है. इस वेरिएंट के जेनेटिक कोड में 46 म्यूटेशन और 37 डिलीशन है. IHU वेरिएंट B.1.640 का सब-लीनियेज है और इसकी खोज की घोषणा फ्रांस के ‘इंस्टिट्यूट हॉस्पिटलो-यूनिवर्सिटेयर्स’ के रिसर्चर्स ने की थी. विशेषज्ञों का कहना है कि कोरोना वायरस के इस वेरिएंट को लेकर ज्यादा कुछ कहना अभी जल्दबाजी होगी.

ये हैं IHU के लक्षण

लक्षणों की बात करे तो, जो पहला व्यक्ति इस वेरिएंट से पीड़ित पाया गया, उसमें केवल हल्के श्वसन लक्षण विकसित हुए थे और ये व्यक्ती कैमरून की यात्रा से लौटा था. इम्पीरियल कॉलेज के वायरोलॉजिस्ट टॉम पीकॉक का कहना है कि इस वेरिएंट के पास अच्छी-खासी परेशानी पैदा करने का मौका है, लेकिन सौभाग्य से अब तक ऐसा देखने में नहीं आया है. वहीं, अमेरिकी महामारी विज्ञानी एरिक फीगल-डिंग ने कहा कि वायरस के नए वेरिएंट समय-समय पर सामने आते हैं, लेकिन जरूरी नहीं कि हर वेरिएंट खतरनाक हो.

Leave a Reply