Weather Alert : प्री मानसून दस्तक, जानिए हरियाणा में कब आएगा मानसून

चंडीगढ़ | हरियाणा में प्री मानसून ने शुक्रवार को दस्तक दे दी है. एस प्री मानसून का प्रभाव हरियाणा में साफ देखा जा सकता है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि जिस प्रकार मध्य प्रदेश की तरफ से मानसून आगे बढ़ रहा है, यह स्थिति अभी तक हरियाणा के पक्ष में बनी हुई है.

Haryana Weather News In Hindi Today

अगर इस स्थिति में कोई भी परिवर्तन नहीं होता है तो हरियाणा में मानसून के समय में बारिश होने की संभावना रहेगी तथा इस स्थिति पर मौसम विभाग अपनी नजर बनाए हुए हैं. आपको बता दें कि पिछले साल 20 जून को प्री मानसून की बारिश हुई थी. इसके साथ ही शुक्रवार को देश का सबसे गर्म शहर सिरसा (हरियाणा) रहा. यहां का अधिकतम तापमान 44.3 डिग्री सेल्सियस रहा है. इसके बाद राजस्थान का श्रीगंगानगर में 44.2 डिग्री सेल्सियस था. देश का तीसरा सबसे गर्म शहर हिसार (हरियाणा) में 43.6 डिग्री सेल्सियस तापमान रहा. हालांकि बीते वीरवार को आंधी तथा हल्की बूंदाबांदी के कारण तापमान में गिरावट हुई है.

See also  Haryana DC Rate Vacancy: सोनीपत में कुक हेल्पर समेत अन्य कई पदों पर निकली भर्ती, 10वीं पास करें आवेदन

आंधी तथा हल्की बारिश से बिजली गुल :

वीरवार रात्रि के दौरान आई नम हवाओं के फैलाव के कारण आंधी तथा हल्की फुल्की बारिश ने हरियाणा प्रदेश के कई हिस्सों में बिजली के खंभे तोड़ दिए हैं. आपको बता दें कि हिसार समेत अन्य जिलों में बिजली के कर्मचारी रात्रि को ही फॉल्ट तथा अन्य कार्य करा रहे थे. तेज आंधी में काफी सारे पेड़ रोड पर गिर गए थे जिससे लोगो को परेशानी उठानी पड़ी. हिसार की बात करें तो यहां आंधी में काफी सारे पेड़ तो गिर गए थे लेकिन एक भी बूंद बारिश नहीं हुई.

आज बारिश का आसार, गर्मी से राहत :

See also  मुख्यमंत्री का बड़ा ऐलान SC उम्मीदवारों को मिलेगा 20 फ़ीसदी आरक्षण

बंगाल की खाड़ी से आने वाली नमी भरी हवाओं के कारण हरियाणा प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में गरज, चमक वह तेज हवाओं के साथ बारिश होने की पूरी संभावना है. आपको बता दें कि यह सभी गतिविधियां प्री मानसून की है. प्री मानसून 15 से 16 जून तक चलने की आशंका है. इसके कारण हरियाणा के ज्यादातर क्षेत्रों में तेज हवाएं तथा हल्की बारिश तथा उत्तरी हरियाणा के कुछ हिस्सों में तेज बारिश होने की संभावना है. प्री मानसून की वजह से दिन के तापमान में 5 से 7 डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट होने की संभावना है.

Leave a Reply