Weather Alert: हरियाणा में गर्मी ने तोड़ा रिकॉर्ड, मौसम विभाग ने दी चेतावनी- पड़ सकता है सूखा

Weather Alert | हरियाणा में 5 साल बाद अप्रैल महीने में सूखा बीतने की स्थिति बनी हुई है. ऐसा साल 2016 में भी हुआ था जब बरसात की एक बूंद नहीं गिरी थी. आपको बता दें कि 5 साल बाद दोबारा ऐसी स्थिति बनने की पूरी संभावना है. इस समय मौसम की जो परिस्थितियां बनी हुई है उनके अनुसार कोई भी पश्चिमी विक्षोभ ऐसा नहीं है जो हरियाणा दिल्ली पंजाब के छात्रों को राहत प्रदान कर सकें.

 

मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 24 घंटों में दक्षिण हरियाणा के कुछ हिस्सों सहित दिल्ली व एनसीआर में हीट वेव का लोगों को सामना करना पड़ सकता है. अप्रैल माह की विदाई गर्मी के साथ होगी तथा अधिकतम तापमान 43.0 डिग्री के आसपास पहुंच सकता है.

See also  हरियाणा राज्य में बारिश के बादल कर गए दगा, जाने अब कब होगी बरसात

लोग धूप में बाहर ना निकले तथा पानी का अधिक सेवन करें

नागरिक अस्पताल के सीनियर से जिक्सियन डॉ. ओपी सैनी ने बताया है कि इस समय गर्मी बहुत ज्यादा पढ़ रही है. इसलिए लोगों को लू लगने की संभावना अधिक है. नागरिकों से अनुरोध है कि कि धूप में न जाने की कोशिश करें अगर किसी कारण से जाना पड़ जाए तो सिर पर कपड़ा ढक कर जाए. तरल पदार्थों का अधिक सेवन करें इससे शरीर में पानी की कमी पूरी हो जाती है. पहले से कटे हुए फल सब्जियों का सेवन ना करें इससे उल्टी दस्त भी हो सकते हैं.

See also  Weather Alert : प्री मानसून दस्तक, जानिए हरियाणा में कब आएगा मानसून

देशभर में मौसम की स्थिति

केंद्रीय मृदा लवणता अनुसंधान संस्थान के अनुसार एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र पूर्व मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ व इसके आसपास के हिस्सों में निचले स्तरों पर बना हुआ है. दक्षिण-पूर्व मध्य प्रदेश पर बने चक्रवाती हवाओं के क्षेत्र से आंतरिक कर्नाटक तक एक टर्फ रेखा विदर्भ और मराठवाडा से गुजरते हुए फैली हुई है. उत्तर दक्षिण की एक टर्फ रेखा सिक्किम से पश्चिम बंगाल तक फैली हुई है.