UP Election: केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने मुफ्त बिजली के वादे पर अखिलेश यादव पर साधा निशाना, पूछा- पैसा कहां से आएगा

UP Election: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने वादा किया है कि अगर उनकी पार्टी यूपी में सरकार बनाती है तो 300 यूनिट घरेलू बिजली मुफ्त दी जाएगी और सिंचाई बिल माफ कर दिया जाएगा।

UP Election: आम बजट के बाद एबीपी न्यूज से खास बातचीत में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आरके सिंह ने अखिलेश यादव के यूपी में मुफ्त बिजली देने के चुनावी वादे पर उनका नाम लिए बगैर तंज कसा है. उन्होंने कहा कि मुफ्त बिजली जैसी कोई चीज नहीं होती। बिजली का पैसा सरकार को देना होगा। वादा करने वाले को अपने संभावित बजट में इस पैसे का प्रावधान करना चाहिए और जनता को बताना चाहिए कि उसे यह पैसा कहां से मिलेगा।

See also  Oppo के लेटेस्ट 5G Smartphone ने लॉन्च होते ही मचाया बवाल! जानिए फीचर्स, कीमत और मिलने वाले ऑफर

‘मुफ्त बिजली का वादा जनता को गुमराह कर रहा है’

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर.के. सिंह ने कहा कि वास्तविकता यह है कि मुफ्त बिजली वाली सरकार को इस बिजली के लिए लोगों की शिक्षा और स्वास्थ्य जैसे बजट से पैसे काटने होंगे. इससे जनता असमंजस में रहेगी और जनता को भी नुकसान होगा।

अब फोकस ट्रांजिशनल एनर्जी पर है

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने कहा कि बजट में बिजली मंत्रालय के लिए पर्याप्त राशि का आवंटन किया गया है. हमने पारंपरिक बिजली पहुंचाने का काम पूरा कर लिया है। अब देश का फोकस ट्रांजिशनल एनर्जी पर है, जिसमें हम दुनिया में लीडर हैं।

See also  Amitabh Bachchan ने बेचा अपना पुराना घर 'सोपान', 23 करोड़ रुपये में हुई डील!

ग्रीन बॉन्ड क्या है?

आरके सिंह ने कहा कि इस बार हमें बजट में ग्रीन बांड दिया गया है. ग्रीन बॉन्ड एक सामान्य मनी बॉन्ड होगा जिसमें आम लोग अपना पैसा निवेश कर सकेंगे। लेकिन ग्रीन बॉन्ड की खासियत यह होगी कि जो लोग ग्रीन बॉन्ड में पैसा लगाते हैं, उनका पैसा अक्षय ऊर्जा को बढ़ावा देने में खर्च होगा।

बैटरी स्वैपिंग क्या है

केंद्रीय ऊर्जा मंत्री ने कहा कि अब हम बैटरी की अदला-बदली भी शुरू करेंगे, यानी घर पर या चार्जिंग स्टेशन पर बैटरी कारों को चार्ज करने में लगने वाला समय बचेगा और नए की तरह खाली एलपीजी सिलेंडर देकर लिया जाता है। इसी तरह डिस्चार्ज की गई बैटरी देकर चार्ज की गई बैटरी ली जा सकती है। इस सिस्टम की चेन बनाने का काम मंत्रालय करेगा.

Leave a Reply