हरियाणा रोडवेज़ में महंगा हो सकता है सफर, जानिए वजह

हरियाणा रोडवेज़ | अगर डीजल के दाम में बढ़ोतरी जारी रही तो हरियाणा रोडवे की बसों का किराया बढ़ाया जा सकता है। दरअसल डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी का असर हरियाणा रोडवेज पर पड़ने लगा है। रोडवेज का घाटा 35 रुपये 88 पैसे प्रति किलोमीटर पर पहुंच गया है परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने दिए संकेत, महंगा हो सकता है सफर डीजल के दाम बढ़ने से रोडवेज का घाटा 3 रुपये प्रति किलोमीटर बढ़ गया है. डीजल के भाव स्थिर नहीं हुए तो रोडवेज बसों का सफर महंगा हो सकता है। इस बात का संकेत खुद परिवहन मंत्री मूलचंद शर्मा ने दिया है। इस साल रोडवेज का नुकसान 752 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है।
See also  Sarso Ka Bhav: मंडियों में पहुंचने से पहले ही ऊंचे भाव पर बिक रही सरसों, मिल रहा यह भाव

हरियाणा रोडवेज का प्रति किलोमीटर घाटा बढ़कर 35,88 रुपये हुआ

बसों की कीमत 68 43 पैसे प्रति किलोमीटर है, जबकि 32 रुपये और 44 पैसे प्रति किलोमीटर की कमाई है। लगातार बढ़ते घाटे की वजह सिर्फ कोरोना संक्रमण ही नहीं, बल्कि डीजल के लगातार बढ़ते दाम भी हैं. ऐसे में परिवहन मंत्री ने स्पष्ट किया कि अभी तक किराया नहीं बढ़ाया गया है, लेकिन अगर डीजल की कीमत इसी तरह बढ़ती रही तो इसे किराया बढ़ाने पर विचार किया जा सकता है. इसके विपरीत किलोमीटर योजना के तहत चलने वाली बसों की आय 35 रुपये प्रति किलोमीटर आती है। इसलिए इस स्थिति को देखते हुए सरकार एक हजार नई बसों को किलोमीटर योजना में शामिल करने के लिए तेजी से काम कर रही है.
See also  रोडवेज फ्लाइंग को व्हाट्सएप ग्रुप से दिया जा रहा है चकमा, जुड़े है 500 से अधिक विद्यार्थी
किलोमीटर योजना के तहत वर्तमान में 562 बसें चल रही हैं जिसे बढ़ाकर 1562 किया जाएगा। किलोमीटर बसों के लिए जल्द ही टेंडर जारी किए जाएंगे। वहीं रोडवेज बेड़े में कर्मचारियों की कमी को हरियाणा कौशल रोजगार विकास निगम के माध्यम से पूरा किया जाएगा। कौशल विकास निगम के अंतर्गत नये चालकों एवं परिचालकों की नियमित भर्ती के साथ-साथ भर्ती भी की जायेगी। इसके लिए कौशल विकास निगम के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन किया जा चुका है। परिवहन मंत्री ने कहा कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए बसों में एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं.
Whatsapp Group Join Now
Telegram Group Jion Now