केंद्रीय विद्यालयों में गर्मियों की छुट्टियां होने वाली है खत्म, इस तारीख से खुलेंगे स्कूल

नई दिल्ली, केंद्रीय विद्यालयों | दिल्ली एनसीआर के अलावा देशभर के केंद्रीय विद्यालय में 17 जून को गर्मियों की छुट्टियां खत्म हो रही है. 18 जून से सभी केंद्रीय विद्यालयों में पढ़ाई शुरू हो जाएगी. मौसम विभाग के द्वारा बताया गया है कि अगले हफ्ते मौसम में बदलाव आने के कारण गर्मी का असर थोड़ा कम हो जाएगा. जिससे बच्चों को स्कूल आने तथा जाने में कम समस्याओं का सामना करना पड़ेगा.

 

दिल्ली एनसीआर के समेत देशभर में गर्मी ने हाहाकार मचा रखी है. गर्म हवा (लू) के चपेट में आने से कहीं लोग बीमार भी हो चुके हैं. इसी बीच कहीं राज्यों में गर्मियों की छुट्टियां भी खत्म हो चुकी हैं. अगर बात करें यूपी की तो अगले हफ्ते (18) से यूपी में भी केंद्रीय स्कूल खुल जाएंगे. दिल्ली से सटे नोएडा, गाजियाबाद और हापुड़ समेत पूरे उत्तर प्रदेश में आगामी 16 जून स्कूल खुल जाएंगे और पढ़ाई दोबारा शुरू हो जाएगी.

See also  School Holiday In October 2022: अक्टूबर में रहेगे 10 दिन स्कूल बंद, देखिए छुट्टियां की लिस्ट

अगर हम बात करें यूपी की तो यूपी में 16 जून से स्कूल खुल जाएंगे. 17 जून को सभी केंद्रीय विद्यालयों के गर्मियों की छुट्टियां खत्म हो जाएगी तथा 18 से सभी केंद्रीय विद्यालयों की कक्षाएं शुरू होगी. मतलब अगर देखा जाए तो अगले हफ्ते से यूपी के स्कूलों के साथ केंद्रीय विद्यालय भी खुल जाएंगे. केंद्रीय विद्यालय संगठन की तरफ से 17 जून तक विद्यालय बंद रहेंगे तथा 18 जून से विद्यालय पुनः शुरू हो जाएंगे. जानकारी ले लिए बता दे केंद्रीय विद्यालयों में 7 मई से गर्मियों की छुट्टियां पड़ी थी.

कहां-कहां 18 जून को खुलेंगे केंद्रीय विद्यालय

  • देहरादून
  • दिल्ली
  • गुरुग्राम
  • फरीदाबाद
  • नोएडा
  • ग्रेटर नोएडा
  • गाजियाबाद
  • चंडीगढ़
  • कोलकाता
  • गुवाहाटी
  • जयपुर
  • जम्मू
  • लखनऊ
  • पटना
  • रांची
  • सिलचर
  • तिनसुकिया
  • वाराणसी
  • अहमदाबाद
  • बेंगलुरु
  • चेन्नई
  • एर्णाकुलम
  • हैदराबाद
  • जबलपुर
  • मुंबई
  • रायपुर
  • भुवनेश्वर
  • भोपाल
See also  School Holiday In October 2022: अक्टूबर में रहेगे 10 दिन स्कूल बंद, देखिए छुट्टियां की लिस्ट

आपको जानकारी के लिए बता दें कि 1962 में केंद्रीय विद्यालय संगठन को केंद्र सरकार की ओर से मंजूरी दी गई थी. शुरुआती दौर में दिल्ली समेत विभिन्न राज्यों में 20 सेना रेजिमेंटों के 20 स्कूलों का केंद्रीय विद्यालयों के रूप में अधिग्रहण किया गया था. जून 2013 तक 1073 केंद्रीय विद्यालय थे, जिनमें से 3 विदेश में थे. सबसे महत्वपूर्ण बात कि सभी केंद्रीय विद्यालयों में एक ही पाठ्यक्रम होता है. इसका लाभ यह होता है कि देशभर के स्कूलों में एक ही समय में ही एक तरह का पाठ्यक्रम पढ़ाया जाता है.