Sri lanka : कर्ज में डूबे श्रीलंका के सेंट्रल बैंक ने उठाया ये बड़ा कदम, क्या अब रुकेगी महंगाई?

Sri lanka  कर्ज के जाल में फंसे श्रीलंका के सेंट्रल बैंक ने शुक्रवार को ब्याज दरों में रिकॉर्ड सात फीसदी की बढ़ोतरी की। सेंट्रल बैंक ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब देश की अर्थव्यवस्था अभूतपूर्व संकट में है। द्विपक्षीय देश के केंद्रीय बैंक ने देश की गिरती मुद्रा को समर्थन देने के लिए यह कदम उठाया है।

Sri lanka

अब इतनी हो गई हैं ब्याज दरें

सेंट्रल बैंक ऑफ श्रीलंका ने विनिमय दर को स्थिर करने के लिए बेंचमार्क उधार दर को बढ़ाकर 14.5 प्रतिशत कर दिया है। एक महीने में देश की मुद्रा में 35 फीसदी की गिरावट के बीच श्रीलंका के केंद्रीय बैंक ने यह कदम उठाया है.

See also  ITR Update: टैक्स भरने में कोई गलती हो तो कोई दिक्कत नहीं; सरकार ने की ये नई व्यवस्था

जमा दर भी बढ़ी ( Sri Lanka )

द्विपक्षीय देश के केंद्रीय बैंक ने जमा दर को सात प्रतिशत बढ़ाकर 13.5 प्रतिशत कर दिया है। केंद्रीय बैंक ने यह कदम ऐसे समय उठाया है जब ऐसी खबरें आ रही हैं कि श्रीलंका की मुद्रा दुनिया में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली मुद्रा बन गई है।

इस वजह से उठाया गया कदम

सेंट्रल बैंक ऑफ श्रीलंका ने कहा है कि दर में यह भारी वृद्धि इसलिए की गई है क्योंकि उसे लगता है कि देश में मुद्रास्फीति और बढ़ सकती है जो पहले से ही रिकॉर्ड स्तर पर है। श्रीलंका के सेंट्रल बैंक द्वारा उठाए गए कदम अगर देश की मुद्रा में स्थिरता लाते हैं तो आने वाले समय में देश की आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार देखने को मिल सकता है।

See also  वंदे भारत एक्सप्रेस 30 सितंबर से इस रूट पर भरेगी रफ्तार, एक सीट के लिए करना होगा इतना खर्च, देखिए किराये की लिस्ट

मार्च में इस स्तर पर महंगाई

कोलंबो का उपभोक्ता मूल्य सूचकांक मार्च में 18.7 फीसदी रहा। वहीं, खाद्य पदार्थों की महंगाई 25 फीसदी से ऊपर रही। निजी विश्लेषकों के मुताबिक मार्च में महंगाई दर 50 फीसदी से ज्यादा थी.

देश में प्रदर्शन

देश में आर्थिक संकट के कारण भोजन, ईंधन और बिजली की आपूर्ति बाधित हो गई है। कई जरूरी सामानों की किल्लत हो गई है। इसको लेकर देशभर में लोग सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. यहां तक कि लोग राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के इस्तीफे की भी मांग कर रहे हैं।