पिता की मर्जी के आगे भारी पड़ गया बेटे का प्यार, मोहब्बत के लिए प्रेमी ने ठुकराए 24 लाख रुपऐ, पढ़े दिलचस्प प्रेम कहानी

मोहब्बत | प्यार धन और दौलत नहीं देखता अगर सच्चा प्यार हो तो फिर उससे प्रेमी और प्रेमिका अपने प्रेम के आगे किसी की नहीं सुनती, बिहार के नवादा से एक ऐसा ही सच्ची प्रेम कहानी आई है, प्रेम ने ना सिर्फ अपनी मर्जी और घर वालों के खिलाफ जाकर शादी की बल्कि उसने देहज में मिलने वाले ₹2400000 को भी ठुकरा दिया, अपनी मर्जी से कहीं और शादी करना चाहते थे लेकिन प्यार के आगे सब फीका पड़ गया.

मामला नवादा के सिरदला थाना क्षेत्र का है, यहां मंदिर में प्रेमी युगल ने शादी और दहेज लोभी ऊपर छोड़ तमाचा मारा है, मैं जोड़ी ने सरपंच और पुलिस के सामने पेपर पर हस्ताक्षर शादी की जिससे पूरे मामले का खुलासा हुआ, मीका ओ कान्हा गांव निवासी कैलाश प्रसाद यादव की पुत्री संगीता कुमारी है, प्रेमी युवक कसियाडीह 80 विजय प्रसाद का पुत्र प्रमोद कुमार है.

See also  शादीशुदा मर्दों के प्यार पागल अभिनेत्रियां, आज भी रह रही है कुंवारी, वजह जान कर रह जाएगे हैरान

थाना पहुंचकर न्याय की लगाई गुहार

प्रेमी युगल ने बताया कि दोनों 2 साल एक दूसरे से प्यार करते हैं, युवक ने अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहता था लेकिन उसके पिता ने उसकी शादी दूसरी जगह तय कर रखी थी, लड़के के पिता 2400000 रुपए लेकर धूमधाम से शादी करना चाहते थे, लेकिन यह शादी प्रमोद को मंजूर नहीं थी, उसने इंकार कर दिया और लास्ट में अंतिम जोड़े थाना पहुंच गए और न्याय मांगने लगे

प्रेमी और प्रेमिका की बात सुनने के बाद पुलिस की और से सरपंच को बुलाया गया, सरपंच ने दोनों पक्षों को समझाकर प्रेमी जोड़ों का मंदिर में विवाह संपन्न कराया, बता दें कि प्रमोद प्राइवेट सिविल इंजीनियर है, गीता के गांव आना जाना था, किसी भी दोनों में प्यार हो गया.