Self Employment : अगर आप अपना खुद का व्यवसाय करना चाहते हैं तो इस क्षेत्र में अच्छी कमाई है, जानिए योग्यता कैसे प्राप्त करें

Self Employment :  हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे क्षेत्र और उनसे जुड़ी अहम जानकारियां जहां आप भी स्वरोजगार पाकर आत्मनिर्भर बन सकते हैं.

Self Employment

Self Employment :  देश में सरकारी नौकरी के लिए हर कोई तैयारी करता है, लेकिन इस समय हमारे देश में कई ऐसे क्षेत्र हैं जहां लोगों को सरकारी नौकरी से ज्यादा पैसा और सुविधाएं मिल सकती हैं। आज के समय में हमारा देश आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे क्षेत्र और उनसे जुड़ी अहम जानकारियां, जहां आप भी स्वरोजगार पाकर आत्मनिर्भर बन सकते हैं.

Table of Contents

मोबाइल रिपेयरिंग सेक्टर में अच्छी कमाई

आज देश में किसके पास मोबाइल फोन नहीं है? मोबाइल फोन इस्तेमाल करने वालों की संख्या के मामले में आज भारत दुनिया में चीन के बाद दूसरे नंबर पर है। अब अगर देश में इतने सारे मोबाइल होंगे तो उनमें दिक्कतें आएंगी। मशीन कब खराब होती है यह तो भगवान ही जाने। आपने हमेशा मोबाइल रिपेयरिंग की दुकानों पर भारी भीड़ को इकठ्ठा होते देखा होगा. इसलिए आजकल मोबाइल रिपेयरिंग के क्षेत्र में काफी पैसा कमाया जाता है।

मोबाइल रिपेयरिंग कैसे सीखें?

मोबाइल रिपेयरिंग का काम देखना मुश्किल लगता है लेकिन इसे सीखना उतना ही आसान है। यदि आप इसे सीखने के इच्छुक हैं तो यह सुविधा आपके लिए ई-स्किल इंडिया पर उपलब्ध है। इसके लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट eskillindia.org पर जाना होगा। यहां आपको मोबाइल रिपेयरिंग के कोर्स की पूरी जानकारी मिलेगी। सबसे अच्छी बात यह है कि यह कोर्स बिल्कुल मुफ्त उपलब्ध है। अब स्वरोजगार प्रशिक्षण और वह भी बिल्कुल मुफ्त, इससे बड़ा लाभ और क्या हो सकता है।

See also  Business News : भारत में बढ़ी धनकुबेरों की संख्या, दुनिया में इस रैंक पर है देश

कोर्स में क्या मिलेगा? ( Self Employment ) 

आप ई-स्किल इंडिया द्वारा उपलब्ध कराए गए मोबाइल रिपेयरिंग कोर्स में 2जी और 3जी मोबाइल फोन की मरम्मत करना सीख सकते हैं। इस कोर्स में आपको मोबाइल फोन के पुर्जे, मोबाइल, बैटरी, माइक, स्पीकर, कनेक्टर, एंटेना, डिस्प्ले, नेटवर्क, कैमरा और ब्लूटूथ में खराबी खोजने और उन्हें ठीक करने की जानकारी मिलेगी। इसके साथ ही आपको मोबाइल फोन के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बारे में भी पूरी जानकारी और सुरक्षा की जानकारी मिलेगी।

क्या लाभ होंगे?

इस कोर्स को करने के बाद आपको इस कोर्स को करने के बाद मोबाइल रिपेयरिंग की सभी बेसिक जानकारी मिल जाएगी। इसके बाद आप मोबाइल रिपेयर करना सीखकर अपना खुद का रोजगार शुरू कर सकते हैं और अच्छी रिपेयरिंग की दुकान पर रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।

See also  Sarkari Naukri latest Jobs : लोक सेवा आयोग में इन विभिन्न पदों पर बंपर वैकेंसी, 12वीं के लिए करें आवेदन, स्नातक, मिलेगा 62000 वेतन

पाठ्यक्रम कितना लंबा है?

ई-स्किल इंडिया द्वारा प्रदान किए जा रहे मोबाइल रिपेयरिंग कोर्स की अवधि 11 घंटे 3 मिनट है। इसके लिए 9वीं और 10वीं कक्षा की योग्यता होना जरूरी है।

कोर्स में एडमिशन कैसे लें? ( Self Employment )  

उम्मीदवार नीचे दिए गए आसान दिशानिर्देशों का पालन करके पाठ्यक्रम में प्रवेश ले सकते हैं।

  • इच्छुक उम्मीदवार सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट eskillindia.org पर जाएं।
  • अब होम पेज पर दिख रहे मोबाइल रिपेयरिंग कोर्स पर क्लिक करें।
  • अब एनरोल नाउ के लिंक पर क्लिक करें।
  • अब मांगी गई जानकारी दर्ज कर कोर्स में हिस्सा लें।

Leave a Reply