हरियाणा के इस जिले से फिर शुरू हुई पाबंदियां, बनाए गए माइक्रो कंटेनमेंट जोन

हरियाणा | हरियाणा में कोरोना महामारी एक बार फिर लोगों को डरा रही है और खासकर एनसीआर क्षेत्र के जिलों में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सोमवार को दिल्ली-एनसीआर (राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र) में कोविड-19 की स्थिति और तैयारियों की समीक्षा बैठक की.

वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए बैठक से जुड़े मुख्य सचिव संजीव कौशल ने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इससे प्रभावी ढंग से निपटने के लिए सक्रिय रणनीति बनाई गई है. COVID-19 उपयुक्त प्रथाओं के कार्यान्वयन के संबंध में स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जा रहा है। हाल ही में संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी को देखते हुए राज्य सरकार स्थिति पर पैनी नजर रखे हुए है.

See also  हरियाणा में 4 स्कूली छात्र मिले कोरोना पॉजिटिव, स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया अलर्ट

संजीव कौशल ने कहा कि कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए जाएंगे. गुरुग्राम में नौ माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित किए गए हैं। इसके अलावा जिला प्रशासन को कोविड-19 डाटा को नियमित रूप से पोर्टल पर अपडेट करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि एनसीआर के जिलों खासकर गुरुग्राम में पॉजिटिविटी रेट में अतिरिक्त बढ़ोतरी को देखते हुए रोजाना टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने के आदेश जारी किए गए हैं.

संजीव कौशल ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कोविड दिशा-निर्देशों का पालन करना इस महामारी से बचाव का सबसे कारगर हथियार है. उन्होंने लोगों से सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की अपील की और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचने की सलाह दी। संजीव कौशल ने कहा कि कोविड टीकाकरण अभियान को मजबूत बनाने में सभी को अपना योगदान देना चाहिए।

See also  जींद जिले के दनौदा गांव के लोगों का सरकार को एलान गाइडलाइंस मानने एवं मास्क लगाने से किया इंकार