एशियन गेम्स में पंचकूला की प्रांजल द्वारा स्वर्ण जीतने पर लहराया पंचम, कोच को दिया श्रेय देखिए👇🏻👇🏻👇🏻

Table of Contents

बता दें, कि दुबई में चल रही एशियन जूनियर एंड यूथ बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पंचकूला की बेटी प्रांजल ने स्वर्ण पदक जीता है । उन्होंने महज 5 साल के खेल करियर में चैंपियन बन गई है। बता दें , कि प्रांजल ने 4-1 से विजय हासिल की है । प्रांजल की सफलता में ताऊ देवीलाल खेल नर्सरी के बॉक्सिंग कोच वीरेंद्र डांगी का हाथ है । बता दें , कि महज 8 साल की उम्र से ही प्रांजल उनसे बॉक्सिंग के गुर सीख रही है ।

Pranjal Yadav: 'Stay away from gadgets': Uncle Krishan to sub-jr national  champ Pranjal Yadav | Boxing News - Times of India
कोच वीरेंद्र द्वारा बताया गया है कि प्रांजल में एक गजब तरह की प्रतिभा है । 17 से 30 अगस्त तक दुबई में आयोजित चैंपियनशिप में अंडर-17 कैटेगरी के स्तर से 75 किलो भार वर्ग में प्रांजल ने स्वर्ण पदक हासिल किया । बता दें , कि इससे पहले सोनीपत में 25 से 31 जुलाई तक आयोजित नेशनल जूनियर हॉकी चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर प्रांजल ने अपने इरादे जाहिर कर दिए थे । इसी प्रदर्शन के आधार पर एशियन गेम्स में उनका चयन हुआ था।

डांगी द्वारा बताया गया है कि प्रांजली प्रदर्शन जारी रखती है तो वह दिन दूर नहीं है जब प्रांजल ओलंपिक में भी स्वर्ण पदक हासिल करेगी । प्रांजल के पिता संदीप कुमार सीआईडी में एएसआई के पद पर तैनात है । जबकि उनकी मां सुदेश गृहिणी है । पिता और मां सुबह 4:00 बजे उसे लेकर अभ्यास के लिए बॉक्सिंग रिंग में पहुंच जाते हैं ।

 

See also  कैथल के खिलाड़ियों द्वारा शानदार प्रदर्शन जीते दो स्वर्ण एवं एक कांस्य पदक

गले में पदक डाला तो गुरु की आंखों से छलके आंसू

वीरेंद्र डांगी द्वारा बताया गया है कि जुलाई 2021 में जूनियर नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप में प्रांजल के साथ मैं पानीपत गया था । मैं रिंग में लगातार उसका हौसला बढ़ाता रहा । यहां प्रांजल ने एकतरफा मुकाबला जीता अपने प्रतिद्वंदी को 5-0 से शिकस्त दी । प्रांजल ने रिंग से बाहर निकलते ही अपना पदक मेरे गले में डाल दिया और कहा कि यह आप ही की 5 साल की मेहनत का नतीजा है । उस समय मेरी खुशी का कोई ठिकाना नहीं था । मेरे आंखों से आंसू छलकने लगे । उसी समय प्रांजल ने मुझसे वादा किया कि वह एशियन गेम्स वह चैंपियन बनकर लौटेगी और उसने अपना यह वादा पूरा कर दिया है ।

List of Asian Games Host Cities (1951 to 2026)

 

See also  BHEL recruitment 2022 : इंजीनियर एवं सुपरवाइजर के पदों पर बंपर भर्तियां, जल्द करें आवेदन👇🏻👇🏻👇🏻

2017 से नेशनल में लगातार गोल्डन पंच

 

 

पंचकूला सेक्टर 21 पुलिस लाइन में रहने वाली प्रांजल स्कूल नेशनल नेशनल चैंपियनशिप में 10 साल से लगातार सुनते जीतकर नेशनल चैंपियन बनती आ रही हैं । इसके अलावा खेलो इंडिया में भी दो बार रजत और एक कांस्य पदक जीत चुकी है । सरकार ने 5 लाख रुपए नगद इनाम भी दिया हुआ है।

Leave a Reply