5 जुलाई से इन रूटों पर चलेगी पैसेंजर ट्रेन

नारनौल। कोरोना की दूसरी लहर उपरांत जैसे-जैसे हालात सामान्य होते जा रहे हैं. त्यों-त्यों ही लॉकडाउन की रियायतें भी सरकार ने बढ़ाई हैं. अब सरकार द्वारा पैसेंजर गाडि़यों संचालन किया जा रहा है. रेवाड़ी-नारनौल-रींगस ट्रैक पर दो पैसेंजर गाडि़यों का संचालन पांच जुलाई से सात जुलाई के मध्य किया जाएगा. यह दो पैसेंजर स्पेशल गाड़ियां चार फेरे लगाएंगी.

इससे इस क्षेत्र के रेल यात्रियों का दिल्ली एवं जयपुर की तरफ आना-जाना आसान हो जाएगा. इसका सबसे लाभ प्रतिदिन यात्रा करने वाले दैनिक रेल यात्रियों के साथ-साथ सैनिकों एवं व्यापारियों को भी होगा. एक पखवाड़ा पूर्व चेतक एक्सप्रेस का संचालन किया गया था. जबकि जनशताब्दी एक्सप्रेस को तीन दिन से बढ़ाकर पांच दिन कर दिया गया था.

See also  हरियाणा प्रदेश के लोगों को मिलेगा एयर कंडीशनर सस्ते में, देखें पूरी जानकारी

कोरोना महामारी की दूसरी लहर जब खतरनाक होने लगी थी. तब रेल मंत्रालय ने 12 मई को आदेश पारित कर विभिन्न ट्रेनों का संचालन बंद कर दिया था. उस समय रेवाड़ी-नारनौल-फुलेरा भी इन बंद गाड़ियों की लिस्ट में शामिल था. तब राज्य सरकार के लॉकडाउन एवं इस बंदी के कारण आम जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हो गया था.

कोरोना संक्रमण के केस बढ़ ही नहीं रहे थे. बल्कि मौत का आंकड़ा भी एकदम से आसमान छूने लगा था. इस कारण इस पाबंदी को कारगर माना गया और धीरे-धीरे कोरोना पर काबू पाया जा सका। अब जब धीरे-धीरे हालात सामान्य होने लगे हैं और कोरोना के केस भी बेहद नाममात्र के आने लगे हैं, तब रेल गाड़ियों का संचालन पुन: शुरू किया जा रहा है.

See also  हरियाणा: गांव के निजी स्कूलों को करोड़ों का घाटा, बिना फीस दिए ही छोड़ गए हजारों विद्यार्थी

इसी के चलते ट्रेन नंबर 09723 फुलेरा-रेवाड़ी का संचालन पांच जुलाई किया जा रहा है तथा इसका नारनौल पहुंचने का समय प्रात: 6 बजकर 48 मिनट रहेगा. इसी प्रकार ट्रेन नंबर 09724 रेवाड़ी से फुलेरा जाएगी और नारनौल में इसका समय प्रात: 10 बजकर 17 मिनट रहेगा. सात जुलाई से एक और पैसेंजर ट्रेन चलाई जाएगी.

गाड़ी संख्या 09735 जो फुलेरा से चलकर रेवाड़ी जाएगी. का नारनौल पहुंचने का समय 21 बजकर 16 मिनट रहेगा. गाड़ी संख्या 09736 रेवाड़ी से फुलेरा जाएगी और इसका नारनौल पहुंचने का समय 6 बजकर 26 मिनट रहेगा. यह दोनों ट्रेने ही अब आगामी आदेशों तक नियमित रूप से चलाई जा रही हैं. यदि हालात सामान्य रहे तो भविष्य में और सवारी गाड़ियों की संख्या बढ़ाए जाने की उम्मीद है.

See also  हरियाणा: बिजली निगम का आदेश ट्यूबवेल कनेक्शन के लिए सूक्ष्म सिंचाई सिस्टम की आवश्यकता, जानिए नियम

 

Leave a Reply