आखिर कब होंगे हरियाणा में पंचायत चुनाव, सामने आई बड़ी खबर

हरियाणा में पंचायत चुनाव | सरकार की सबसे छोटे इकाई पंचायत है. पंचायत एक गांव में पंच व सरपंच का समूह होता है. हरियाणा में पिछले काफी समय से पंचायती चुनाव रुके पड़े हैं. दरअसल हरियाणा में पिछले साल फरवरी – मार्च में पंचायती चुनाव होने थे, लेकिन कई कारणों से चुनाव नहीं हो पाए थे. अब हरियाणा में पंचायत चुनावों को हाई कोर्ट द्वारा हरी झंडी दिखा दी गई है.

अब जिला परिषद और पंचायत समितियों के सदस्यों तथा पंच-सरपंचों के चुनाव कराने की तैयारियां शुरू हो गई हैं. राज्य चुनाव आयोग द्वारा 23 मई से मतदाता सूचियों के संशोधन का काम शुरू करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं. 22 जुलाई को फाइनल मतदाता सूची प्रकाशित होंगी. इसके 20 दिन के बाद पंचायत चुनावों की अधिसूचना जारी की जा सकती है. अनुमान के अनुसार, 15 अगस्त के आस पास चुनाव हो सकते हैं.

See also  Haryana Panchayat Election 2022 Date: पंचायत चुनाव की तारीख का ऐलान - धनपत सिंह

पंचायती राज चुनावों को लेकर पंचायत एवं विकास विभाग ने राज्य चुनाव आयोग को चिट्ठी सौंप दी है. 23 मई से वार्डों के अनुसार मतदाताओं की ड्राफ्ट लिस्ट तैयार की जाएगी. मतदाता सूचियों को फाइनल करने के लिए पूरे दो महीने का समय दिया गया है. इसके 25 दिन बाद चुनाव प्रक्रिया पूरी होने के अनुमान हैं. राज्य चुनाव आयुक्त धनपत सिंह ने बताया कि पंचायत चुनाव में करीब 22 हजार पोलिंग बूथ बनेंगे. सवा छह साल पहले हुए पंचायत चुनाव में 1.11 करोड़ मतदाताओं ने मतदान किया था, जिनकी संख्या बढ़कर अब करीब सवा करोड़ हो गई है.

सिर्फ उन्हीं लोगों को चुनाव में वोट देने का अधिकार होगा, जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज है. इसके साथ ही फैसला लिया गया है कि पंच पद के उम्मीदवार 27 हजार 500 रुपये, सरपंच एक लाख 65 हजार, पंचायत समिति सदस्य तीन लाख 30 हजार और जिला परिषद सदस्य के उम्मीदवार पांच लाख 50 हजार रुपये चुनाव प्रचार पर खर्च कर सकेंगे. ये फैसला प्रत्याशियों को राहत देने वाला है क्योंकि इस बार करीब 14 लाख नए मतदाता जुड़े हैं.