Omicron Virus Dose: दुनिया के लिए आई राहत भरी खबर, वैज्ञानिकों को मिला ओमिक्रॉन वेरिएंट का तोड़

Omicron Virus Dose |  पूरी दुनिया में तेजी से बढ़ रहे कोरोना के Omicron वेरिएंट को लेकर लोगों में दहशत बढ़ती जा रही है. हालात से निपटने के लिए एक बार फिर से पाबंदियों का दौर शुरू हो गया है. इसी बीच ओमिक्रॉन के खिलाफ एक ऐसी बड़ी खबर सामने आई है, जिससे आप राहत महसूस कर सकते हैं।

ओमिक्रॉन वेरिएंट को मिटाएगा यह हथियार (Omicron Virus Dose)

रिपोर्ट के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय वैज्ञानिकों की एक टीम ने ऐसे एंटीबॉडी की पहचान की है जो ओमिक्रॉन समेत कोरोना के सभी रूपों को बेअसर कर सकते हैं। ये एंटीबॉडीज कोरोना वायरस के उन हिस्सों को टारगेट करते हैं, जिनमें म्यूटेशन (जीन में बदलाव) के दौरान भी कोई बदलाव नहीं होता है।

See also  Omicron Virus Haryana: ओमीक्रोन को लेकर हरियाणा में अलर्ट, जानिए दिशा-निर्देश

ऐसे फैलता है ओमिक्रॉन वेरिएंट

वाशिंगटन विश्वविद्यालय के एसोसिएट प्रोफेसर डेविड वीस्लर ने इस बारे में बड़ी जानकारी दी। प्रोफेसर डेविड वीस्लर ने कहा कि कोरोनावायरस के नुकीले हिस्से को स्पाइक प्रोटीन कहा जाता है। इसके माध्यम से यह मानव कोशिकाओं में प्रवेश कर संक्रमण फैलाता है। उन्होंने कहा कि एंटीबॉडी के विकास पर ध्यान केंद्रित करके इस महामारी को नियंत्रित किया जा सकता है जो कोरोना वायरस के स्पाइक प्रोटीन के एक विशिष्ट हिस्से को लक्षित करता है।

क्या बूस्टर डोज लेना जरूरी है?

प्रोफेसर वीस्लर ने कहा कि शरीर में एंटी-बॉडीज बढ़ाने के लिए बूस्टर डोज लेना एक अच्छा कदम हो सकता है। उन्होंने आंकड़ों के साथ अपनी बात स्पष्ट करते हुए कहा कि जिन लोगों को कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज मिली हैं, उनमें एंटी बॉडीज की गतिविधियां 5 गुना कम देखी गईं. वहीं, बूस्टर डोज के साथ-साथ दोनों डोज लेने वाले लोगों में एंटी बॉडी की एक्टिविटी में सिर्फ 4 गुना कम एक्टिविटी पाई गई। यानी बूस्टर डोज लेने से एंटी बॉडी मजबूत होती है।

See also  Omicron: क्या कपड़े का मास्क कोरोना के Omicron वेरिएंट से बचाएगा? जानिए क्या कहते हैं विशेषज्ञ

Leave a Reply