Omicron Variant Alert : इम्युनिटी कमजोर होने पर शरीर देता है ये संकेत, न करें नजरअंदाज

Omicron Variant Alert : कोरोना के दौर में इम्युनिटी का मजबूत होना बेहद जरूरी है। वहीं कई बार हमारा शरीर हमें कमजोर इम्युनिटी के संकेत देता है, जिसे हम नजरअंदाज कर देते हैं। आइए जानते हैं कैसे

Covid-19: कोरोना के दौर में हमने कुछ जाना हो या ना जाना हो लेकिन ये जरूर जान चुके हैं कि इम्यूनिटी का मजबूत होना कितना जरूरी है. जिस व्यक्ति की इम्यूनिटी (Immunity ) कमजोर होती है उसका किसी बीमारी या वायरस से संक्रमण का खतरा कई गुना बढ़ जाता है. ऐसे में अपनी इम्यूनिटी पर खास ध्यान देने की जरूरत होती है. वहीं अक्सर ये भी होता है कि हमारा शरीर हमें कमजोर इम्यूनिटी के संकेत देता है जिन्हें हम नजरअंदाज कर देते हैं. अब इम्यूनिटी कमजोर होने के इन संकेतों पर गौर करना शुरू करें. हम यहां आपको बताएंगे कि आपको कमजोर इम्यूनिटी होने पर शरीर क्या-क्या संकेत देता है चलिए जानते हैं.

See also  UP Assembly Election 2022 : यूपी में 'मुफ्त राशन' Vs 'आवारा जानवर' का मसला! जानिए किसका गणित मतदाताओं ने बिगाड़ा है

कमजोर इम्यूनिटी के लक्षण-

पाचन संबंधी दिक्कतें- डायरिया, कब्ज, पेट में गड़बड़ी और दर्द होना कमजोर इम्यूनिटी का परिणाण होता है. शरीर की आंते इम्यूनिटी को बनाए रखने का काम करती हैं और आंतों में परेशानी से इम्यूनिटी कम होने लगती है जिसके कारण पेट की समस्याएं भी होती हैं.

हर समय थकावट महसूस करना– जब शरीर रोगों से लड़ पाने में नाकाम होने लगता है तो शरीर हर समय थकावट महसूस करता है. शरीर का इम्यून सिस्टम आप को संकेत दे रहा होता है.

बार-बार सर्दी-जुकाम– सर्दी, जुकाम, नाक बहना और हल्का बुखार भी कमजोर इम्युनिटी के लक्षण हैं। ये समस्याएं केवल प्रतिरक्षा प्रणाली के इन विभिन्न जीवाणुओं से हमारी रक्षा करने में सक्षम नहीं होने के कारण होती हैं।

See also  Bhool Bhulaiyaa 2 : 'भूल भुलैया 2' की रिलीज डेट का हुआ खुलासा, इस दिन सिनेमाघरों में दस्तक देगी

जोड़ों का दर्द– प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने का संकेत भी जोड़ों और मांसपेशियों में लगातार दर्द होना है। इम्युनिटी अच्छी हो तो जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द से भी राहत मिलती है।

त्वचा संबंधी समस्याएं– जिस व्यक्ति की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है उसे त्वचा संबंधी समस्याएं भी अधिक होती हैं। इम्युनिटी कमजोर होने पर रूखी त्वचा और बैक्टीरिया या फंगस की समस्या हो सकती है।

Leave a Reply