New Delhi News 2022 : अगर आपके पास भी हैं दो बर्थ सर्टिफिकेट तो हो जाएं सावधान, हाईकोर्ट ने दिया है ये फैसला

Delhi News: एक व्यक्ति को अलग-अलग जन्म तिथियों के दो जन्म प्रमाण पत्र रखने का अधिकार नहीं है। इस मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है. यहां जानिए पूरी बात।

Delhi News

नई दिल्ली: अगर आपके पास भी अलग-अलग जन्मतिथि वाले दो बर्थ सर्टिफिकेट हैं तो सावधान हो जाएं. अलग-अलग जन्मतिथि वाले व्यक्ति के दो जन्म प्रमाण पत्र रखने के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया है.

अदालत ने अपने फैसले में दो जन्म प्रमाण पत्र होने के नुकसान के बारे में विस्तार से बताते हुए कहा कि किसी व्यक्ति की पहचान न केवल नाम और उनके माता-पिता से होती है, बल्कि जन्म तिथि से भी होती है।

See also  Rewari News: देश के 10 विद्यार्थियों का इसरो में चयन, हरियाणा की शिवांशी का भी नाम

दिल्ली उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति संजीव सचदेव ने अपने फैसले में आगे कहा कि ऐसी स्थिति में यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि किसी व्यक्ति को जन्मतिथि के दो अलग-अलग प्रमाण पत्र रखने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

इस मामले में जस्टिस संजीव सचदेव ने साउथ एमसीडी को याचिकाकर्ता के दो जन्म प्रमाणपत्रों में से एक को रद्द करने का निर्देश दिया था.

जन्म प्रमाण पत्र एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है (Delhi News )

आपको बता दें कि जन्म प्रमाण पत्र किसी भी बच्चे का पहला पहचान पत्र होता है। यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण दस्तावेज है। इसकी समय-समय पर जरूरत होती है। जन्म प्रमाण पत्र प्राप्त करने की प्रक्रिया बहुत आसान है। इसे बच्चे के जन्म के 21 दिनों के भीतर बना लेना चाहिए।

See also  Corona Deaths: फिर डराने लगा कोरोना का ये आंकड़ा, एक हफ्ते में 5200 लोगों की मौत, क्या दूसरी लहर की तरह खतरनाक हो रहा है वायरस

जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के लिए जरूरी हैं ये दस्तावेज-

अस्पताल में जारी हुआ बच्चे का जन्म पत्र

माता-पिता का पहचान पत्र (आधार, पैन)

Aaj Ka Rashifal 24 February 2022: मेष, वृष और मीन राशि का दिन रहेगा अच्छा, इन दो राशि को रहना होगा सतर्क

Leave a Reply