बदला जाएगा झांसी रेलवे स्टेशन का नाम, अब होगा यह नया नाम

झांसी | यूपी सरकार ने झांसी रेलवे स्टेशन का नाम बदलने के रेलवे के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसे लेकर कोई आपत्ति नहीं दी थी। अब आने वाले दिनों में झांसी स्टेशन वीरांगना लक्ष्मीबाई रेलवे स्टेशन के नाम से जाना जाएगा।

अब होगा यह नया नाम

भाजपा के राज्यसभा सांसद प्रभात झा समेत कई स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने कुछ साल पहले झांसी में हुई रेलवे बैठक में झांसी का नाम रानी लक्ष्मीबाई के नाम पर रखने की मांग की थी. इस पर रेलवे ने गृह मंत्रालय की सहमति और मंजूरी लेकर प्रक्रिया शुरू की थी और अब यूपी सरकार को मिल गया है. झांसी सांसद अनुराग शर्मा ने कहा कि यह बुंदेलखंड के लोगों के लिए गर्व की बात है.

See also  Attention: रविवार को ट्रेन से हरियाणा, दिल्ली, यूपी और पंजाब आना-जाना होगा मुश्किल, रेलवे ने दी जानकारी

यूपी में इन रेलवे स्टेशनों का नाम बदला

इससे पहले भी यूपी सरकार कई रेलवे स्टेशनों के नाम बदल चुकी है। योगी सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज, मुगलसराय का नाम दीन दयाल उपाध्याय और फैजाबाद का नाम अयोध्या कर दिया है। वाराणसी का मंडुआडीह स्टेशन भी नाम बदलने वाले स्टेशनों की सूची में है. मंडुआडीह स्टेशन का नाम बदलकर बनारस स्टेशन कर दिया गया है। इलाहाबाद जंक्शन का नाम भी बदलकर प्रयागराज जंक्शन कर दिया गया है। वहीं, नौगढ़ रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर सिद्धार्थनगर कर दिया गया।

यह मंजूरी होती है जरूरी

आपको बता दें कि रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की प्रक्रिया में केंद्रीय गृह मंत्रालय की अहम भूमिका होती है। राज्य सरकार रेलवे स्टेशन का नाम बदलने के लिए केंद्र सरकार को अनुरोध भेजती है। केंद्र सरकार उक्त प्रस्ताव पर कई विभागों और एजेंसियों जैसे इंटेलिजेंस ब्यूरो, डाक विभाग, भारतीय भौगोलिक सर्वेक्षण विभाग, रेल मंत्रालय को एनओसी भेजती है। विभागों और एजेंसियों से एनओसी मिलने के बाद गृह मंत्रालय नाम बदलने की मंजूरी देता है।

See also  Attention: रविवार को ट्रेन से हरियाणा, दिल्ली, यूपी और पंजाब आना-जाना होगा मुश्किल, रेलवे ने दी जानकारी

Leave a Reply