Musturd oil price : सरसों के भाव में आई है तेज गिरावट, अब एक किला खरीदने के लिए देने होंगे इतने पैसे, जानें ताजा दाम

Musturd oil price

Musturd oil price : भारत में इन दिनों महंगाई आम लोगों की जेबें खराब कर रही है। पेट्रोल-डीजल और गैस सिलेंडर के दाम पहले ही सातवें आसमान पर हैं। दूसरी ओर रूस और यूक्रेन के बीच भीषण युद्ध की वजह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत में तेजी आ रही है. खाने-पीने की चीजें भी किचन का स्वाद बिगाड़ रही हैं। वहीं अगर आप सरसों के तेल के खरीदार हैं तो यह खबर आपके लिए काफी अहम साबित होने वाली है। सरसों का तेल इन दिनों उच्चतम स्तर से 30-40 रुपये के आसपास सस्ते में बिक रहा है।

See also  Jio Free Internet : डेटा खत्म होने के बाद भी नहीं देना होगा पैसे, जानिए कैसे

सरसों तेल में 3 रुपये की गिरावट के साथ सरसों तेल अब 165 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. पिछले महीने सरसों तेल 168 रुपये के औसत भाव पर बंद हुआ था। सरसों का तेल अब उच्चतम स्तर से करीब 30-40 रुपये कम पर बिक रहा है। पिछले दिनों यूपी में सरसों के तेल की कीमत 164 रुपये थी। सरसों का तेल दिसंबर 2021 में अपने अधिकतम 200 रुपये के भाव पर पहुंच गया था।

वायदा बाजार के जानकारों का कहना है कि सर्दियों में सरसों के तेल की खपत ज्यादा होती है. इसलिए सरसों तेल की कीमत कम होने का नाम नहीं ले रही है। सर्दी के थमने के साथ ही सरसों के तेल के भाव में भी भारी गिरावट आएगी। आने वाले दिनों में तिलहन बाजार में तेल की कीमतों में अप्रत्याशित गिरावट की संभावना है।

See also  Indian Railways NTPC Exams : परीक्षार्थी ध्‍यान दें, रेलवे चलाने जा रहा यह स्‍पेशल ट्रेन, जानें शेड्यूल

ऐसा बाजार के जानकारों का मानना है। जानकारों के मुताबिक वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2022-23 के बजट में तिलहन की खेती करने वाले किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए राहत दी है.

इसका असर कुछ महीनों के बाद देखा जा सकता है। यूपी में आज हमीरपुर में सरसों तेल का अधिकतम भाव 174 रुपये प्रति लीटर पर खुला है. जबकि छह फरवरी को गाजीपुर जिले में सरसों का अधिकतम भाव 172 रुपये प्रति लीटर पर बंद हुआ था. वहीं, कानपुर में सरसों तेल का भाव अधिकतम 180 रुपये प्रति लीटर था। सरसों का तेल पिछले कई दिनों से महंगा बिक रहा है, जिससे किचन का बजट खराब हो रहा है।

Leave a Reply