Kisan Andolan Live Haryana : किसान आंदोलन में एक किसान की मौत, वजह जाने

हिसार किसान आंदोलन में एक किसान की मौत का मामला सामने आया है। आपको बता दें कि हिसार में किसान आंदोलन चरम पर है।

 

हरियाणा : हिसार जिले में उगालन गांव निवासी रामचंद्र आज किसान आंदोलन में आया हुआ था। प्राप्त जानकारी अनुसार किसान रामचंद्र आज हिसार के किसान आंदोलन में इकट्ठा होने के लिए क्रांति मान पार्क में आया था। जैसे ही वह पार्क में किसानों के साथ इकट्ठा हुए तो उनकी अचानक से तबीयत बिगड़ गई। बताया जा रहा है कि किसान रामचंद्र की मौत हार्ट अटैक की वजह से हुई है।

 

हिसार में किसानों के प्रदर्शन के कारण केस दर्ज किया गया था जिसके कारण आज हिसार में अलग-अलग जगहों पर किसान प्रदर्शन करने पहुंचे थे। हाल ही में किसानों पर हुए केस दर्ज को वापस लेने के लिए किसान प्रदर्शन कर रहे हैं।

 

आपको पता होगा कि पिछले रविवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर कोल्ड अस्पताल का उद्घाटन करने हिसार पहुंचे थे। वहां पर किसानों ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल का विरोध किया। जिसके चलते किसान और पुलिस में झटपट हो गई। इसके साथ ही पुलिस ने हत्या का प्रयास करने के लिए 300 से ज्यादा किसानों पर केस दर्ज किया।

 

कमिश्नर का किया जाना था घेराव:

किसान यूनियन के अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी भी प्रदर्शन में शामिल होने के लिए हिसार पहुंच चुके है। हिसार में प्रदर्शन करने के लिए सभी किसान हिसार स्थित क्रांतिमान पार्क में इकट्ठा हुए थे। आपको बता दें कि हरियाणा के अलग-अलग हिस्सों से यहां किसान पहुंच रहे थे। इसके साथ ही यहां से ही किसान हिसार कमिश्नर के कार्यालय को घेरने के लिए रवाना हुए थे।

 

Kisan Andolan live Haryana

 

इस मामले में पहले दिन बैठक करके आपस में बातचीत कर समझौता किया गया। परंतु एक दिन छोड़कर उसके अगले दिन ही किसानों पर केस दर्ज किए गए। जिसके किसान नाराज हो गए तथा उन्होंने हिसार में प्रदर्शन शुरू कर दिया।

 

हिसार को किया छावनी में तब्दील:

प्रदर्शन शुरू होते ही हिसार जिला प्रशासन ने अपने आसपास के 6 जिलों से आरपीएफ की टुकड़ी तथा पुलिस बल को बुलाया गया है। यहां पर सुरक्षा का जबरदस्त बंदोबस्त किया गया है।

 

ट्रैक्टर ट्राली लेकर किसान रवाना :

हिसार में चल रहे प्रदर्शन में शामिल होने के लिए गांव मुंढाल से 500, सरसोद से 28, खेदड़ से 55, भदावड से 58, बिचपड़ी से 27, शिवानी बोरान से 55, बीठमंडा से 48, डाटा से 60, सिसाय से 75, धनाना से 82 ट्रैक्टर ट्रॉली लेकर किसान रवाना हुए हैं।

 

Leave a Reply