खाली खेत रखने पर भी सरकार देगी 7000 रुपए, देखें पूरी जानकारी हिंदी में

चंदीगढ | हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर ने किसानों के लिए एक और योजना शुरू कर दी है। इस योजना का नाम “मेरा पानी – मेरी विरासत” है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा है कि ‘मेरा पानी – मेरी विरासत’ योजना के तहत जो किसान धान की फसल के समय अपने खेतों को खाली रखेंगे उन को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने पानी बचाने के लिए इस स्कीम को लागू किया है तथा साथ ही ‘खेती खाली – फिर भी खुशहाली’ के नारे लगाए हैं। आपको पता होगा कि हरियाणा सरकार ने पिछले साल से धान की खेती में करने वाले किसानों को ₹7000 देने की घोषणा की हुई है। अब हरियाणा में गैर बासमती धान बेल्ट एरिया में खाली खेतों के रुपए किसानों को दिए जाएंगे।

See also  हरियाणा को अतिरिक्त विधानसभा भवन के लिए दी जाएगी जमीन: अमित शाह

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि हमारी सरकार किसानों की आमदनी तथा खुशहाली के लिए हर प्रयास कर रही है ताकि हमारे के के साथ खुश रह सके। किसानों को किसी प्रकार की परेशानी नया होता था तथा समय पर किसानों को अपना मुआवजा मिल सके इसके लिए “मेरा पानी – मेरी विरासत” स्कीम को “मेरी फसल – मेरा ब्योरा” से जोड़ा जाएगा। जो भी किसान जल संरक्षण को ध्यान में रखते हुए धान की फसल की जगह कोई भी दूसरी फसल बोलेगा तो उसे यह प्रोत्साहन राशि भी दी जाएगी।

 

दूसरी फसलों के रूप में किसान मक्का कपास आदि फसल की बिजाई कर सकता है। तथा उन को प्रोत्साहन के लिए ₹7000 भी दिए जाएंगे। परंतु इस बार किसान अपने खेतों को खाली छोड़ते हैं तो उनको भी यह प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। किसानों को इस स्कीम तथा अन्य योजनाओं के प्रति जागरूक करने के लिए हर जोन में एक अधिकारी को नियुक्त किया गया है।

See also  हरियाणा के सीएम ने चलाई गरीब विकास कल्याण योजना हर महीने मिलेंगे 5000 रुपए

 

दान की बजाय दूसरी फसल :

मुख्यमंत्री ने अंत में बताया है कि किसान भाई धान की फसल की बजाय बागवानी सब्जी मूंगफली सोयाबीन मूंग दाल गवार आदि की बिजाई करेंगे तो भी किसानों के खातों में ₹7000 प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। किसानों को कोई भी परेशान निर्णय हो इसके लिए समय के पहले ही डीटेल्स की वेरिफिकेशन के निर्देश जारी कर दिए हैं।

 

जय जवान जय किसान

Leave a Reply