HSSC: क्लर्क भर्ती दस्तावेज जांच के लिए 1500 में से केवल 500 अभ्यर्थी पहुंचे, जानिए आगे क्या होगा

HSSC क्लर्क भर्ती शुरू से ही चर्चा का विषय बनी हुई है. हरियाणा कर्मचारी आयोग ने अब क्लर्क भर्ती मामले को लेकर कड़ा रुख अपनाया है. जिसकी वजह से भर्ती में नया मोड़ आया है.

सभी सरकारी और गैर सरकारी नौकरियों की सबसे पहले अपडेट पाने के लिए आप हमारे व्हाट्सएप और टेलीग्राम ग्रुप से जुड़ सकते है- Join Whatsapp Group | Join Telegram Group

दरअसल, उच्च न्यायालय के आदेश पर तीन सही उत्तर ठीक करने के बाद जो संशोधित परिणाम तैयार करने के बाद उम्मीदवारों को दस्तावेज साथ जांच के लिए बुलाया गया, लेकिन आपको बता दें कि 1500 उम्मीदवारों में से केवल 500 उम्मीदवार ही वहां पहुंचे.

See also  HSSC New Guidelines: जानिए भर्ती प्रक्रिया को लेकर HSSC का बड़ा फैसला

आयोग अब चौकन्ना हो गया है व दस्तावेज जांच के दौरान लिखित परीक्षा के समय लिए गए बायोमेट्रिक निशान और दस्तावेज जांच के दौरान लिए गए बायोमेट्रिक निशान को मिलाने का काम कर रहा है. इस जांच के समय तीन ऐसे उम्मीदवार मिले जिनके निशान मैच नहीं हुए.

उपरोक्त मामले के तुरन्त बाद पुलिस को बुलाया गया व उनसे पूछताछ की गई. तीनों उम्मीदवारों ने स्वीकार किया कि उनके स्थान पर किसी और ने एग्जाम दिया था.उन्होंने लिखित में ऐसा स्वीकार किया.

हालांकि हाईकोर्ट ने तो तीन प्रश्नों के सही उत्तर देने वालों को अवसर न मिलने पर फाइनल आंसर की के आधार पर रिजल्ट फिर से तैयार करने को कहा था, लेकिन आयोग द्वारा बायोमेट्रिक निशान मिलाने का कार्य शुरू कर दिया गया.

See also  HSSC: 50000 पदों पर भर्ती जल्द, JBT, TGT सहित इन पदों पर होगी भर्ती, देखिए लिस्ट

प्रश्नों के ठीक होने से 1,00,300 उम्मीदवारों के अंक बढ़ गए जबकि 48,000 उम्मीदवारों के अंक घट गए हैं. हरियाणा कर्मचारी चयन आयोग के अध्यक्ष भोपाल सिंह खदरी ने बताया कि पहले दस्तावेज जांच के लिए 23,160 उम्मीदवारों को बुलाया गया था लेकिन इस बार 24,097 उम्मीदवारों को बुलाया गया है. अध्यक्ष ने बताया कि 20 उम्मीदवार ऐसे हैं जो पहले चयनित थे और नौकरी कर रहे हैं लेकिन अब रिवाइज्ड रिजल्ट जारी होने के कारण उनके नंबर घटकर इतने भी नहीं रहे हैं