होली 2022: ऐसे लोग गलती से भी न देखें ‘होलिका दहन’, होंगे अशुभ फल, जानिए वजह?

होली 2022 | हिंदुओं का प्रमुख त्योहार होली बहुत जल्द आने वाला है। साथ ही इस पर्व को लेकर घरों और बाजारों में तैयारियां भी शुरू हो गई हैं। होली दो दिनों का त्योहार है। जिसमें होलिका दहन पहले दिन यानि छोटी होली फाल्गुन मास की पूर्णिमा के दिन होता है. अगले दिन प्रतिपदा तिथि को होली खेली जाती है। इस साल होली का पर्व 18 मार्च 2022 को मनाया जाएगा। होली को लेकर हमें कुछ जरूरी बातों का भी ध्यान रखना होगा। तो आज हम आपको यही बताने जा रहे हैं।

बता दें कि नवविवाहित महिलाओं को अपने ससुराल में होलिका दहन यानी होली जलाते हुए नहीं देखना चाहिए। ऐसा करना अशुभ माना जाता है। इसके पीछे कारण यह है कि इसके जरिए हम पिछले साल जला रहे हैं।

See also  Holi 2022 : होली पर बन रहे हैं ये 3 राज योग, राशियों पर क्या होगा असर, शुभ रहेगा या बढ़ेगी चिंताएं, जानिए

होलिका की अग्नि को शरीर को जलाने का प्रतीक माना जाता है। क्योंकि हिरण्यकश्यप की बहन और प्रह्लाद की मौसी होलिका इस आग में जल गई थी। जिससे यह आग अच्छी नहीं मानी जाती है। ऐसे में जिन महिलाओं की हाल ही में शादी हुई है उन्हें होइका दहन देखने से बचना चाहिए.

कहा जाता है होलिका दहन के दिन कुछ उपाय करने से इसके अच्छे फल भी प्राप्त होते हैं. होलिका दहन के दिन अपने दाहिने हाथ में काले तिल लेकर मुट्ठी बना लें। फिर इसे अपने सिर पर 3 बार घुमाएं। और होलिका की अग्नि में रख दें। यह उपाय आपके अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है।

See also  Holi 2022 : होली पर बन रहे हैं ये 3 राज योग, राशियों पर क्या होगा असर, शुभ रहेगा या बढ़ेगी चिंताएं, जानिए

इसके अलावा जो लोग अक्सर बीमार रहते हैं वे होलिका दहन के दिन 11 हरी इलायची और कपूर को होलिका की अग्नि में डाल दें। नौकरी और अच्छे व्यापार के लिए एक मुठ्ठी पीली सरसों को 5 बार सिर पर रखकर होलिका की अग्नि में डाल दें। होलिका दहन पर ये सभी उपाय करने से बहुत ही अच्छे फल की प्राप्ति होती है।

Leave a Reply