Haryana Sports : गुजरात अपनाएगा हरियाणा का खेल मॉडल

हरियाणा के खिलाड़ियों ने ओलंपिक्स में भारत का नाम ऊंचा किया है। खिलाड़ियों का इतना अच्छा प्रदर्शन देख कर गुजरात ने हरियाणा का खेल मॉडल अपनाने का फैसला लिया है।

महाराष्ट्र व पंजाब ने भी मांगी खेल पॉलिसी

गुजरात के साथ साथ पंजाब और महाराष्ट्र ने भी हरियाणा की खेल पॉलिसी अपनाने का फैसला कर लिया है।
गुजरात सरकार के प्रतनिधि मण्डल में शामिल सभी कोच खिलाड़ी व खेल अधिकारी मिल कर हरियाणा के खेल मॉडल का अध्ययन कर रहे हैं।
दूसरी बार गुजरात सरकार ने एक प्रतिनिधि मण्डल को हरियाणा दौरे पर भेजा है। जो कि शनिवार को हरियाणा के खेल मंत्री संदीप सिंह से मुलाकात करेगा। खेल मंत्री के द्वारा पूरी पॉलिसी पर चर्चा की जाएगी। प्रतिनिधि मंडल फरीदाबाद, भिवानी, कुरुक्षेत्र, रोहतक,गुड़गांव का दौरा कर लिया है।

See also  एशियन गेम्स में पंचकूला की प्रांजल द्वारा स्वर्ण जीतने पर लहराया पंचम, कोच को दिया श्रेय देखिए👇🏻👇🏻👇🏻

पैरालंपिक व ओलंपिक में हरियाणा ने जीते हैं 11 मेडल

हाल ही में हरियाणा ने पैरालंपिक व ओलंपिक में 11 मेडल जीते हैं। जिसके चलते गुजरात, पंजाब व महाराष्ट्र ने हरियाणा की खेल पॉलिसी अपनाने का फैसला लिया है।

चौटाला सरकार ने की थी खिलाड़ियों को ईनामी राशि देने की शुरुआत

प्रदेश में मेडल लाने वाले खिलाड़ियों को ईनामी राशि देने की शुरुआत चौटाला सरकार ने की थी। उस समय ओलंपिक लाने वाली करणम मललेश्चरी को 25 लाख रुपए का ईनाम दिया गया था। इसके बाद हुड्डा सरकार ने इस खेल पॉलिसी में बदलाव किया था।

Leave a Reply