केंद्र सरकार का बड़ा फैसला! इन जगहों पर तैनात IAS-IPS ऑफिसर्स का स्‍पेशल भत्‍ता बंद, देखे पूरी जानकारी

स्पेशल भत्ता | अखिल भारतीय सेवाओं (AIS) के उत्तर-पूर्वी कैडर के अधिकारियों को अन्‍य भत्‍तों के अलावा विशेष भत्ता दिया जाता था, जो अपने मूल वेतन के 25 प्रतिशत के बराबर होता है.अब इस विशेष भत्ते को वापस ले लिया गया है. केंद्र सरकार के आदेश पर IAS, IPS और IFS अधिकारियों को मिलने वाले इस विशेष भत्‍ते को अब पूर्ण रूप से खत्‍म कर दिया गया है.

स्पेशल भत्ता कर दिया गया खत्म:

केंद्र सरकार के नॉर्थ-ईस्‍ट रीजन में तैनात IAS, IPS और IFS अधिकारियों को दिए जाने वाले प्रोत्साहन और विशेष भत्ते को तत्काल प्रभाव से वापस ले लिया है. दरअसल, अखिल भारतीय सेवाओं के उत्तर-पूर्वी कैडर के अधिकारियों क अन्‍य भत्‍तों से अलग एक विशेष भत्ता मिलता था जो अपने मूल वेतन के 25 प्रतिशत के बराबर था, उसे अब वापस ले लिया गया है.

See also  हरियाणा प्रदेश के लोगों को मिलेगा एयर कंडीशनर सस्ते में, देखें पूरी जानकारी

सरकार ने 10 फरवरी, 2009 को इस विशेष अनुदान के लिए एक आदेश जारी किया था, जिसे ‘अखिल भारतीय सेवाओं के उत्तर-पूर्व कैडर से संबंधित अधिकारियों के लिए विशेष भत्ता’ कहा जाता है. 3 अखिल भारतीय सेवाएं (AIS) जिनमें भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय पुलिस सेवा (IPS) और भारतीय वन सेवा (IFS) शामिल हैं. इन सर्विसेज़ के ऑफिसर राज्य/राज्य या राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के कैडर में सेवाएं देते हैं.

कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (DoPT) द्वारा 23 सितंबर, 2022 को एक संक्षिप्त आदेश में कहा कि सरकार ने नॉर्थ ईस्‍ट रीजन में काम कर रहे AIS अधिकारियों को दिए जा रहे विभिन्न प्रोत्साहनों/ विशेष भत्तों की समीक्षा के बाद उसे वापस लेने का फैसला किया है. 2007 और 2017 के बीच जारी चार आदेशों के माध्यम से अधिकारियों को प्रोत्साहन/ विशेष भत्ते दिए गए थे.