Feeder Buses: दिल्ली में फीडर बसों को नहीं हो रहा फायदा, अब DMRC उठाएगा बड़ा कदम

Delhi metro : राजधानी दिल्ली में मेट्रो की तरफ से भी बसें चलाई जा रही है. लेकिन जितने फायदे में डीटीसी बस है उतनी फीडर बसें (Feeder Buses) नहीं. इसमें यात्री ज्यादा सफर नहीं करते. इसलिए ये बस सेवा घाटे में चल रही है. डीएमआरसी (DMRC) 56 इलेक्ट्रिक फीडर बसों का परिचालन कर रहा है.

क्यों फीडर बस सेवा उपलब्ध करवाई गई?

मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों को लास्ट माइल कनेक्टिविटी की बेहतर सुविधा देने के लिए इसे सड़क पर उतारा गया है. लेकिन यात्री इसका ज्यादा लाभ उठाने में दिलचस्पी नहीं दिखा रहे है. प्रबंध निदेशक विकास कुमार ने कहा है, डीएमआरसी ने सरकार से फीडर बसों को अपने अधीन लेने की सिफारिश की है.

See also  दिल्ली मेट्रो Yellow, Blue और Red लाइन के यात्री ध्यान दें, यह होंगे बड़े बदलाव

बसों की सेवा का फायदा कम उठा रहे यात्री

फीडर बसें 4 रूटों में चल रही है:

कश्मीरी गेट

शास्त्री पार्क

ईस्ट विनोद नगर

दिलशाद गार्डन

जीटीबी नगर

गोकुलपुरी

लक्ष्मी नगर

आनंद विहार

विश्विद्यालय मेट्रो स्टेशन से मिलती है.

इसे भी पढ़ें: Heavy Rainfall Updates: हरियाणा में दिखेगा बारिश का कहर, IMD ने किया येलो अलर्ट जारी…

ई-रिक्शा का यूज करना चाहते है DMRC

विकास कुमार ने कहा कि डीएमआरसी ई-रिक्शा का जल्द ही इस्तेमाल करना चाहते है. पर ई-रिक्शा कई जगहों पर प्रतिबंधित हैं, डीएमआरसी ने ई-ऑटो के परमिशन दे दी है. अगस्त में द्वारका सेक्टर 9 से 50 ई-ऑटो की सुविधा उपलब्ध हो जाएगी. इसके बाद द्वारका के बहुत से स्टेशनों पर ऑटो की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी. और बाद में बहुत से स्टेशनों पर यह सुविधा उपलब्ध जल्द ही करवाई जाएगी.