नए साल पर दिल्ली को मिल सकती है 4 एक्सप्रेसवे और 3 फ्लाईओवर की सौगात, खत्म होगी जाम की झंझट

राजधानी दिल्ली को नए साल के मौके पर परिवहन के लिहाज से बड़ी सौगात मिलने जा रही है. केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय दिल्ली को जाम से निजात दिलाने के लिए योजनाओं पर काम कर रहा है. साल 2023 में दिल्ली में प्रमुख मार्गों पर जाम कम करने के लिए फ्लाईओवर, अंडरपास, एक्सप्रेसवे तैयार कर रहा है. आने वाले नए साल में तीन फ्लाईओवर यातायात के लिए खोल दिए जाएंगे. यहां जानें दिल्ली के प्रमुख मार्गों पर नए साल में कौन से एक्सप्रेसवे, फ्लाईओवर व अंडरपास यातायात के लिए खोला जाएगा.

दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे:

हरियाणा के सोहना से राजस्थान के दौसा तक 276 किमी लंबे 8 लेन के एक्सप्रेसवे का काम अंतिम चरण में चल रहा है. यह एक्सप्रेसवे फरवरी 2023 में शुरु किया जाएगा. इस एक्सप्रेसवे को आश्रम अंडरपास से दिल्ली-मुंबई कनेक्टर के रुप में बनाया जा रहा है. वहीं, यह मार्च 2024 तक बनकर तैयार होगा.

See also  IPL 2022 : CSK-MI नहीं, यह टीम जीत सकती है IPL 2022 का फाइनल! शुरुआती मैचों से ही साफ हो गया था

द्वारका एक्सप्रेसवे:

दिल्ली-हरियाणा बॉर्डर के भारी जाम को खत्म करने के लिए दिल्ली-जयपुर नेशनल हाईवे 48 पर 29 किमी लंबे बाईपास के तौर पर द्वारका एक्सप्रेसवे का निमार्ण चल रहा है. इस 8 लेन के एक्सप्रेसवे अगस्त 2023 तक शुरू किया जा सकता है.

दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे:

210 किलोमीटर लंबा दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेसवे जिससे दिल्ली से देहरादून के बीच आवाजाही कम समय में पूरी होगी. यह अक्षरधाम मेट्रो स्टेशन से गीता कॉलोनी और यूपी बॉर्डर के रास्ते लोनी और बागपत होते हुए गुजरेगा. एक्सप्रेस वे सीधे आईटीओ सिग्नेचर ब्रिज आईएसबीटी कश्मीरी गेट और दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे से जोड़ा जाएगा. इस एक्सप्रेस वे का काम दिसंबर 2023 तक पूरा किया जाना है.

आश्रम फ्लाईओवर:

एम्स से डीएनडी के बीच जाम से निजात दिलाने के लिए इस फ्लाईओवर का निर्माण चल रहा है. जानकारी के लिए बता दें कि इस फ्लाईओवर का काम 70 फ़ीसदी तक पूरा किया जा चुका है. ऐसे में इस फ्लाईओवर को फरवरी 2023 तक खोला जा सकता है.

See also  Delhi-Mumbai Expressway: दिसंबर से शुरू होगी गुरुग्राम-दौसा के बीच आवाजाही, सिर्फ 2 घंटे में 250 km का सफर होगा पूरा

अप्सरा फ्लाईओवर:

आनंद विहार रेलवे ओवरब्रिज तक यह अप्सरा फ्लाईओवर बनाया जा रहा है. यह फ्लाईओवर 6 दिन का है. इस फ्लाईओवर को दिसंबर 2023 तक खोला जा सकता है.

सराय काले खां अंडरपास:

आईटीओ से आश्रम जाने वालों को काफी लंबे जाम का सामना करना पड़ता है. ऐसे में इस अंडरपास का निर्माण किया जा रहा है. यह अक्टूबर 2023 तक पूरा बनकर तैयार हो सकता है, जिससे जाम से राहत मिलेगी.

अर्बन एक्सटेंशन रोड:

दिल्ली-द्वारका, दिल्ली-चंडीगढ़, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे व इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा जैसे प्रमुख जगहों को जोड़ने के लिए 75.5 किलोमीटर लंबे अर्बन एक्सटेंशन रोड टू का निर्माण तेजी से पूर्ण किया जा रहा है. यह निर्माण कार्य अगस्त 2023 तक पूरा किया जा सकता है. इस एक्सटेंशन रोड की सहायता से वाहन दिल्ली में बिना अंदर आए बाहर से ही निकल सकेंगे.