हरियाणा के सरकारी स्कूलों के बच्चे भी जाएंगे नासा इसरो, मिलेंगे पुरस्कार

हरियाणा के सरकारी स्कूल | हरियाणा सरकार ने अब सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को भी नासा इसरो में घूमने का सुनहरा मौका दिया है। ऐसा करने के प्रयास में सरकार ने ओलंपॉइड करने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। इसके लिए कई राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं की मदद भी ली जा रही है।

अक्टूबर महीने में आयोजित होने वाले ओलंपियाड में सरकारी स्कूलों के बच्चों को आगे आने का मौका मिलेगा। ओलंपोईड विजेताओं को छात्रवृति के रूप में पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। हरियाणा के मुख्यमंत्री ने इस साल का बजट पेश करते हुए यह कहा था कि सुधार के लिए सरकार का आठवीं से बारहवीं तक के बच्चों के लिए विषयवार ओलंपाइड करने का प्रस्ताव है।

See also  हरियाणा सरकार ने कुछ राहतों के साथ लॉकडाउन बढ़ाया 5 जुलाई तक

इस बारे में शिक्षा विभाग का कहना है कि हर बार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के द्वारा ऑलंपॉइड आयोजित करवाए जाते थेइस बारे में शिक्षा विभाग का कहना है कि हर बार राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय संस्थाओं के द्वारा ऑलंपॉइड आयोजित करवाए जाते थे लेकिन उनकी फीस महंगी होने के कारण सरकारी स्कूल के बच्चों को भाग लेने का अवसर नहीं मिलता था।

प्राइवेट स्कूलों के लेकिन उनकी फीस महंगी होने के कारण सरकारी स्कूल के बच्चों को भाग लेने का अवसर नहीं मिलता था। प्राइवेट स्कूलों के द्वारा महंगी फीस भर दी जाती थी। इस कारण सरकारी स्कूलों के बच्चे इस से वंचित रह जाते थे।

See also  हरियाणा के सबसे बड़े गांव में 9 दिन में 28 लोगों की मौत, अब तक 1 दिन में 8 शवों की चिता जल चुकी

जानिए क्या हैं पुरस्कार

शिक्षा विभाग द्वारा सरकारी स्कूलों के बच्चों का रुझान गणित विज्ञान जैसे विषयों की ओर बढ़ाने के उद्देश्य से 8वी से 12वी कक्षा के छात्रों के लिए यह कदम उठाया गया है। भौतिक विज्ञान और गणित में राज्य में उच्चतम रैंक पर आने वाले 22 विद्यार्थियों को नासा की यात्रा करने के लिए युस ए भेजा जाएगा। विज्ञान के 2000 विद्यार्थियों को इसरो भेजा जाएगा। अन्य विषयों के लिए 5 लाख 3 लाख 2 लाख रुपए के पुरस्कार निर्धारित किए गए हैं।