Business Idea : सिर्फ 1 लाख रुपये से शुरू करें ये सुपरहिट बिजनेस, हर महीने 8 लाख तक की कमाई; रास्ता जानो

Business Idea : अगर आप भी नौकरी के दबाव से तंग आ चुके हैं और बिजनेस करना चाहते हैं तो यह खबर खास आपके लिए है। आज हम आपको एक बेहतरीन बिजनेस आइडिया के बारे में बता रहे हैं, जिसमें आपको जबरदस्त मुनाफा होगा।

Business Idea

Business Idea : इस बिजनेस को आप कम पैसे में शुरू कर सकते हैं (बिजनेस एट स्मॉल लेवल इन्वेस्टमेंट)। इस कारोबार में मुनाफा भी बंपर है। यह व्यवसाय है – ककड़ी की खेती। ककड़ी की खेती। आइए जानते हैं कि आप कब, कहां और कैसे इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं।

अगर आप बिजनेस से बंपर प्रॉफिट कमाना चाहते हैं तो खीरे का बिजनेस आपके लिए बेहतर साबित हो सकता है। इसमें आपको सरकार की ओर से सब्सिडी भी मिलेगी। इस बिजनेस में आप करीब एक लाख रुपये का निवेश करके हर महीने 8 लाख तक कमा सकते हैं।

See also  Gold Price Update: लगातार 5वें दिन महंगा हुआ सोना, जानिए कितने बढ़े दाम

खीरे की खेती से मुनाफा कमाने के लिए आपको लंबा इंतजार भी नहीं करना पड़ेगा। खीरा बोने के मात्र 4 महीने बाद आप 8 लाख रुपये तक कमा सकते हैं। इसके लिए आपको नए तरीके से खेती करनी होगी। यूपी के किसान नीदरलैंड के पहले किसान हैं जिन्होंने खीरे की एक विशेष प्रजाति के बीज बोए हैं। खीरे के इस बिजनेस में काफी मुनाफा होता है। इस बिजनेस के लिए सबसे पहले सरकार से सब्सिडी लें।

गौरतलब है कि इस खीरे को तैयार होने में 60 से 80 दिन का समय लगता है। खीरा की खेती बरसात के मौसम में अधिक होती है। इस ककड़ी की खेती के लिए भूमि का पीएच. 5.5 से 6.8 तक अच्छा माना जाता है। खीरे की खेती नदियों और तालाबों के किनारे भी की जा सकती है।

See also  IPL 2022 : आंधी की तरह आए लखनऊ के लुईस, जडेजा-धोनी देखते रह गए

इसके लिए सबसे पहले एक सेडनेट हाउस बनाएं। इस खेती के लिए यूपी के किसान दुर्गा प्रसाद जी ने अपने खेत में सेडनेट बनवाया है। उसके बाद उन्हें नीदरलैंड से 72 हजार रुपये के बीज मिले। बीज बोने के 4 महीने बाद उन्होंने 8 लाख रुपये के खीरे बेचे हैं। आपको बता दें कि दुर्गा प्रसाद जी ने सरकार से 18 लाख रुपये का कर्ज लिया था।

इस खीरे की खासियत यह है कि इसमें बीज कम होते हैं इसलिए इसे ज्यादा पसंद किया जाता है। यही वजह है कि इसकी कीमत भी देसी खीरे के मुकाबले ज्यादा है। नीदरलैंड का बीज वाला यह खीरा 40 से 45 रुपये किलो बिक रहा है. इनकी मांग साल भर बनी रहती है।