प्रधानमंत्री मोदी द्वारा लाल किले से पेट्रोल और गैस को लेकर बड़ी घोषणा

नई दिल्ली|आपको बता दें, कि भारत देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को नवीकरणीय ऊर्जा से कार्बन मुक्त इंधन पैदा करने के लिए राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन शुरू करने की औपचारिक घोषणा करने के साथ ही आजादी के 100 साल पूरे होने से पहले यानी कि 2047 तक ऊर्जा के क्षेत्र में भारत देश को आत्मनिर्भर बनाने की घोषणा की है । प्रधानमंत्री मोदी ने लाल किले को प्रचार का माध्यम बनाकर 75वें स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा है। कि “देश की प्रगति और आत्मनिर्भर” भारत बनाने के लिए ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर होना भारत के लिए अति आवश्यक हो चुका है।

Pradhanmantri Narendra Modi Live News Bhasan Today

बता दें, कि उन्होंने यह कहा है कि भारत गैस अधिकारी का अर्थव्यवस्था गन्ने से प्राप्त एथेनॉल को पेट्रोल में मिलाकर तथा बिजली से चलने वाली रेल वाहनों के जरिए ऊर्जा के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बन सकता है । और मोदी जी ने यह भी कहा है कि ऊर्जा जरूरतों को पूरा करने के लिए भारत देश को लगभग हर साल 12 करोड रुपए का खर्च करना पड़ता है ।

Your thoughts will reverberate from Red Fort: PM Modi invites suggestions for his Independence Day speech

हमारे देश के माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र दामोदर दास मोदी जी ने कहा है। कि देश की प्रगति और आत्मनिर्भर भारत के लिए ऊर्जा के क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनना ही होगा । उन्होंने कहा है कि भारत को ऊर्जा के मामले में स्वतंत्र होने के लिए यह संकल्प लेना होगा कि वह आजादी के 100 साल पूरे होने से पहले भारत को ऊर्जा के मामले में आत्मनिर्भर बनाएंगे । उन्होंने यह भी कहा है कि इसके लिए अर्थव्यवस्था में प्राकृतिक गैस का उपयोग बढ़ाना आवश्यक है । और पूरे देश में सीएनजी के पाइपों के जरिए घर में पहुंचने वाली प्राकृतिक गैस की आपूर्ति के लिए नेटवर्क का जाल बिछाना पड़ेगा। साथ ही पेट्रोल में एथेनॉल के 20% मिश्रण और बिजली से चलने वाले वाहनों को भी बढ़ावा देना होगा।

मोदी जी ने यह भी कहा,कि देश नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में तेजी से आगे कदम बढ़ा रहा है और इस क्षेत्र में स्थापित क्षमता समय से पहले 1 लाख मेगावाट को पार कर गई है मोदी जी ने यह भी कहा कि 2030 तक 4 लाख 50 हजार मेगावाट नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता में से देश एक लाख मेगावोल्ट क्षमता समय से पहले हासिल कर चुका है । प्रधानमंत्री ने राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन की भी औपचारिक तौर पर घोषणा की और कहा कि मैं राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन की घोषणा करता हूं । और कहा कि भारत को हरित हाइड्रोजन के उत्पादन के साथ-साथ निर्यात के लिए वैश्विक केंद्र बनाने का लक्ष्य है ।

Leave a Reply