Axis Bank के ग्राहकों लिए बुरी खबर: 1 जून से बदल जाएगा ये नियम, करना होगा अधिक भुगतान

Axis Bank New Guidelines | अगर आपका भी अकाउंट एक्सिस बैंक में है तो यह खबर आपके बहुत काम की है. आप इस खबर को पूरा जरूर पढ़ें. एक्सिस बैंक ने अपने ग्राहकों को झटका देते हुए बचत खातों पर सेवा शुल्क बढ़ा दिया है. इसका असर सभी ग्राहकों पर पड़ेगा.

बैंक का यह नियम 1 जून से लागू होगा. बैंक ने खाते में न्यूनतम बैलेंस रखने की सीमा भी बढ़ा दी है. अगर आप बढ़ा हुआ बैलेंस मेंटेन नहीं कर पा रहे हैं तो मासिक सर्विस चार्ज भी पहले से ज्यादा देना होगा.

मिनिमम बैलेंस 15 हजार से बढ़ाकर 25 हजार ( Axis Bank )

बैंक की ओर से जारी नोटिफिकेशन में बताया गया कि 1 जून 2022 से सेविंग्स/सैलरी अकाउंट के टैरिफ स्ट्रक्चर में बदलाव किया जा रहा है. कस्बों और ग्रामीण इलाकों में मासिक मिनिमम बैलेंस को 15,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दिया गया है. इसके अलावा ऑटो डेबिट सक्सेस नहीं होने पर जुर्माने को भी बढ़ा दिया गया है. यह 1 जुलाई से लागू होगा.

See also  Bank Latest Updates : एक से ज्यादा बैंकों में है अकाउंट तो हो जाएं सावधान! पैसा काटने समेत होगा ये बड़ा नुकसान

600 रुपये का मासिक सेवा शुल्क

अगर एक्सिस बैंक के ग्राहक खाते में मिनिमम बैलेंस मेंटेन नहीं कर पा रहे हैं तो ज्यादा सर्विस चार्ज देना होगा. मेट्रो और शहरी क्षेत्रों के लिए अधिकतम मासिक सेवा शुल्क अब 600 रुपये होगा. यह अर्ध-शहरी क्षेत्रों के लिए 300 रुपये और ग्रामीण क्षेत्रों के लिए 250 रुपये होगा.

ऑटो-डेबिट के फेल होने पर लगेगा ऐसा जुर्माना

नेशनल ऑटोमेटेड क्लियरिंग हाउस (एनएसीएच) के फेल होने की स्थिति में शुल्क 500 रुपये कर दिया गया है. इसके तहत पहली बार 375 रुपये, दूसरी बार 425 रुपये और तीसरी बार 500 रुपये देने होंगे. ऑटो-डेबिट फेल होने पर भी चार्ज में 50 रुपये की बढ़ोतरी हुई है और इसे 200 रुपये से बढ़ाकर 250 रुपये किया गया है.

See also  आज से बदल गए बैंक के बड़े नियम! अब 10 हजार से ज्यादा जमा कराने पर लगेगा अतिरिक्त चार्ज

चेक बुक के लिए देने होंगे ज्यादा पैसे

अब अगर आप किसी बैंक से चेक बुक जारी करते हैं तो आपको उसकी भी ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी. परिवर्तन के बाद, प्रति पत्ता चेक बुक की कीमत 2.50 रुपये से बढ़ाकर 4 रुपये कर दी गई है. यह बदलाव 1 जुलाई से प्रभावी होगा. भौतिक विवरण और डुप्लीकेट पासबुक शुल्क के लिए 75 रुपये के बजाय अब 100 रुपये का भुगतान करना होगा . यह बदलाव भी एक जुलाई से प्रभावी होगा.